Sahityasudha view

साहित्यसुधा


साहित्यकारों की वेबपत्रिका

साहित्य की रचनास्थली


वर्ष: 3, अंक 48, नवम्बर(प्रथम), 2018

लेखक या सम्पादक की लिखित अनुमति के बिना पूर्ण या आंशिक रचनाओं का पुनर्प्रकाशन वर्जित है। लेखक के विचारों के साथ सम्पादक का सहमत या असहमत होना आवश्यक नहीं।  सर्वाधिकार सुरक्षित। साहित्यसुधा में प्रकाशित रचनाओं में विचार लेखक के अपने हैं और साहित्यसुधा टीम का उनसे सहमत होना अनिवार्य नहीं है।

साहित्यसुधा एक सम्पूर्णतः साहित्यिक पत्रिका है जिसका उद्देश्य सभी रचनाकारों को प्रोत्साहित करके हिंदी को बढ़ावा  देना है | इसके माध्यम से हिंदी साहित्य की सभी विधाओं को सम्मिलित करने का प्रयास किया जाएगा। साहित्यसुधा

सम्पादकीय मंडल:-
सम्पादक - डॉ०अनिल चड्डा
सह-सम्पादक - अखिल भंडारी


साहित्यिक समाचार
लोकोदय नवलेखन व पुस्तक लोकार्पण समारोह


दिनांक 14-10-2018 को जनपद बाँदा में डीसीडीएफ स्थित कवि केदारनाथ अग्रवाल सभागार में लोकदोय प्रकाशन द्वारा ‘पुस्तक विमोचन एवं नवलेखन सम्मान’ समारोह का आयोजन किया गया। समारोह की अध्यक्षता वरिष्ठ आलोचक कर्ण सिंह चौहान ने की .....

....पूरा पढ़ें



*राजेश पुरोहित राष्ट्रीय स्टार डायमंड अचीवर्स अवार्ड से सम्मानित*


झालावाड:- भवानीमंडी के साहित्यकार राजेश कुमार शर्मा"पुरोहित" को मरु नगरी बीकानेर में राष्ट्रीय स्टार डायमंड अचीवर्स अवार्ड 2018 से सम्मानित किया गया। पुरोहित ने बताया कि युथ वर्ल्ड न्यूज बीकानेर द्वारा आयोजित सोशल मीडिया मैत्री सम्मेलन एवम राष्टीय स्टार डायमंड अचीवर्स अवार्ड 2018 के राष्ट्रीय स्तर के ......

....पूरा पढ़ें




जानें अपनी प्रसन्नता को कैसे बढायें -
पढ़ें डॉ० अशकान फरहादी द्वारा रचित एवँ डॉ० अनिल चड्डा एवँ अन्य द्वारा अनुवादित पुस्तक का 11वाँ भाग
"प्रसन्नता का विकास"


लक्ष्य प्राप्त करने के बाद क्या होता है
सम्पादक की ओर से
"भूतकाल का भविष्य"
आजकल तो वृक्ष भी बोलता है
अपनी छाँव का मोल भी तोलता है
पीला पड़ता मेरे राष्ट्र का अबोध भविष्य
शैशवस्था में ही प्यासा-नंगा डोलता है
और गली-कूचों पर आदर्शों की होली में
रोज़ एक 'शव' दम तोड़ता है
और जन्म लेता है एक और कंकाल
किसी कूड़े के ढेर पर
या फिर गंदे नाले में
भरे उजाले में भी करता है नृत्य महाकाल
मेरे भारत के आगे-आगे
'भूत'(काल) का भविष्य दौड़ता है!
     - डॉ० अनिल चड्डा
अब तक.......


कविता  |  कहानी  |  लघु-कथा  |  आलेख  |   व्यंग्य  | गीत अनूदित-साहित्य  |  नाटक  |  लेखक परिचय  | 
ग़ज़लें   | हाइकु   |  हिन्दी ब्लॉग  |  दोहे | नज़्में  | पुस्तक समीक्षा  |पुराने अंक| हास्य-कविता |
बच्चों का कोना|

आपके पत्र


महेन्द्र देवांगन माटी

साहित्य सुधा के सभी अंकों को पढता हूँ । यह पत्रिका साहित्य के साथ साथ समाज को दिशा दिखाने का कार्य करती है । इसमें सभी रचनाकारों की रचनाएँ बहुत अच्छी लगती हैं। संपादक महोदय एवं पत्रिका के पूरी टीम को बहुत बहुत बधाई एवं शुभकामनाएँ ।

shridhargovind@gmail.com

Patrika bahut hi achchi hai.
sadprayas ke liye hirdik abhinandan.

manjurani2015@gmail.com

bahut sundr kaam kiya ja rha h .badhai

Tanu srivastava lko@gmail.com

पहली बार पढ़ा अंक। बहुत अच्छा लगा,,संस्मरण ,,,मंडप के नीचे,, कविता ,
मन्नत के धागें,,,कहानी,,,,अभिनय कविताएं,,,, डर लगता है,
प्रकृति गीत,,प्रभवशाली है बधाई रचनाकारों को,
और समपदक महोदय को

neelam11052014@gmail

मान्यवर सम्पादक जी

सादर प्रणाम।

साहित्य सुधा का अगस्त अंक पढा,कहानी,कविता ,हास्य व्यंग्य, राजपाल
गुलिया जी का दोहा संग्रह उठने लगे सवाल बहुत पसंद आये। अंक पढ़कर
गदगद हो गए।

xx xx xx

सम्पादक जी

सादर प्रणाम।

सितम्बर द्वितीय अंक में आपकी रचना जागता स्वप्न
बहुत पसंद आई।

महावीर उत्तरांचली

वाह! वाह! क्या बात है अजय भाई। अति उत्तम :—

सरल है व्याकरण इसका,सरल है लिखने पढ़ने में
करें हम काम हिन्दी में,बहुत आसान है हिन्दी ॥

सविता अग्रवाल "सवि" कैनेडा

डॉ अनिल जी |
बहुत बहुत धन्यवाद | सितम्बर द्वीतीय अंक प्राप्त हुआ | आपके द्वारा रचित 'जागता स्वप्न" गरिमा जी द्वारा रचित "सब सूना हो जाएगा ", पीताम्बर सराफ "रैंक" द्वारा रचित "रोती लड़की" , सुशील शर्मा जी की "अंतस" , शुची भवि जी के भावपूर्ण हाइकु और कवि राजेश पुरोहित जी की "चुनावी चौका" नामक रचना पढ़कर बहुत अच्छा लगा सभी रचना कारों की कलम इसी प्रकार चलती रहे |अनेक शुभकामनाएं |
सादर

इस अंक में
कवितायेँ


1.डॉ. अमरजीत सिंह टांडा -

(i)चाहत सी है
(ii)झील सी गहरी
(iii)जो दबे पाँव

2.डॉ०अनिल चड्डा -

(i)तंग क्यों आ गए हो

3.अशोक बाबू माहौर -

(i)पत्तियाँ डा़लियों पर

4.ध्रुव सिंह "एकलव्य'' -

(i)बैरी पाती

5.डॉ दिग्विजय शर्मा "द्रोण" -

(i)जीवन जीलो
(ii)अमृतसर का रावण
(iii)मन मन रावण

6.गरिमा -

(i)वक़्त

7.कवि जसवंत लाल खटीक -

(i)करवा चौथ
(ii)विजयादशमी



8.जय प्रकाश भाटिया -

(i)हमारी मातृ भाषा
(ii)ज़िंदगी

9.कंचन अपराजिता -

(i)आलोक पर्व
10.कुन्दन कुमार -

(i)निगाहें

11.लवनीत मिश्र -

(i)दुर्गा विदाई
(ii)नहीं हो सकता

12.मोती प्रसाद साहू -

(i)यह जीवन है
(ii)कश्ती

13.मुरलीधर वैष्णव -

(i)असीम हूं मैं
(ii)करूं कुछ ऐसा.....
(iii)कविता तब भी उपजती है ...

14.नरेश गुर्जर -

(i)हुनर



15.प्रिया देवांगन "प्रियू" -

(i)ठंड का मौसम

16.राज वीर सिंह -

(i)*ऋषयो मंत्र द्रष्टारः*
 सूर घनाक्षरी


17.डाॅ. शशि तिवारी -

(i)वन्दना तेरी करूँ मैं

18.शुचि 'भवि' -

(i)तेरे नाम के धागे
(ii)जन्मदिवस है आपका

19.डॉ सुलक्षणा अहलावत -

(i)कहानी

20.सुरेश सौरभ -

(i)दुकानें
(ii)कुछ अहसास

21.तनुजा नंदिता -

(i)वफ़ा .....!!

22.उमाशंकर सैनी -

(i)विजयादशमी

गीत, गज़ल, इत्यादि


ग़ज़लें

1. अनिरुद्ध सिन्हा -

(i)बदल गए हो क्या
(ii)हम पागल हुए
(iii)तलाश

2.देवी नागरानी -

(i)जाने क्या कुछ हुई ख़ता मुझसे
(ii)वो किनारा मिला न था

3. नरेन्द्र श्रीवास्तव -

(i)अपने-अपने फर्ज निभायें

4. पीताम्बर दास सराफ "रंक" -

(i)सहमा हुआ हर शख्स है

5.शुचि 'भवि' -

(i)वफ़ा का ही मतलब जफ़ा हो गया है
बच्चों का कोना





नज़्में


1.डॉ०अनिल चड्डा

(i)और क्या जलाना है

2.सलिल सरोज


(i)होंठों को छूता चला गया
(ii)तमाशा मज़ेदार न था
(iii)हम आपकी तारीफों के पुल बाँध तो देंगे

गीत


1.देवेन्द्र कुमार राय


(i)फैला घोर अन्धेरा

2. डॉ गोरख प्रसाद मस्ताना -

(i)अधूरापन
(ii)सब क्षणभंगुर



हाइकु


1. अशोक कुमार ढोरिया -

(i)करवा चौथ

2. प्रजापति गुरुदेव -

(i)नंगा आदमी....

दोहे

1.कमला घटाऔरा

(i)फिर दोषी है कौन ?

2.नवीन कुमारभट्ट -

(i)समय

3. डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक" -

(i)विद्वानों के वाक्य

4. सुशील कुमार शर्मा -

(i)हिंदी भाषा का इतिहास

आलेख, कहानियाँ, व्यंग्य, इत्यादि
लघुकथायें


1.चंद्रेश कुमार छतलानी -

(i)दहन किसका
(ii)अमृतसर रेल दुर्घटना
 विभीषिका पर 5 लघुकथाएं

(iii)सत्यव्रत

पुस्तक समीक्षा


1.ओमप्रकाश क्षत्रिय “प्रकाश”[समीक्षक]

(i)डा. शील कौशिक [लेखक]

- धूप का जादू (बाल कथा—संग्रह) की समीक्षा

(ii)डॉ0 पंकज वीरवाल 'किशोर' [लेखक]

- सोने का हार[कहानी-संग्रह] की समीक्षा

2.राजेन्द्र वर्मा[समीक्षक]
(i)डॉ. चिरोंजी लाल यादव [लेखक]

- गााँव का मसीहा (उपन्यास)की समीक्षा

3.संजीव वर्मा 'सलिल' [समीक्षक]
(i)राजेन्द्र वर्मा [लेखक]

- पुस्तक "रस-छंद-अलंकार और काव्य विधाएँ" की समीक्षा

कहानियाँ


1.डॉ०अनिल चड्डा -

(i)इंसाफ

हास्य-नाटक


1.दिनेश चन्द्र पुरोहित -

(i)"दबिस्तान-ए-सियासत"(अंक 11)


व्यंग्य





धारावाहिक उपन्यास


1. प्रबोध गोविल -

(i)प्रस्तुत है प्रबोध गोविल
 के एक और उपन्यास
 'जल तू जलाल तू ' का
 अध्याय-१


2. संतोष श्रीवास्तव -

(i)पढ़ें संतोष श्रीवास्तव
 के धारावाहिक
 उपन्यास "लौट आओ
 दीपशिखा" का अगला
 भाग


संस्मरण


1. सुशील कुमार शर्मा -

(i)लालबहादुर शास्त्री सम्मान -
 अविस्मरणीय संस्मरण


आलेख

1.घनश्याम बादल
-

(i)अखंड सौभाग्य व सुहाग
 का पर्व है करवाचौथ


3.डॉ.रजनीकान्त एस.शाह -

(i)गुजरात की लोकसंस्कृति
 का उन्मेष: गरबा


3.शामिख फ़राज़ -

(i)ऑनर किलिंग:
 समाज का एक घिनौना चेहरा


4.डॉ. सुबोध कुमार शांडिल्य -

(i)सामाजिक मूल्यों का क्षरण:
 एक समस्या


5.सुशील कुमार शर्मा -

(i)बदलते परिदृश्य में हिंदी
 भाषा की स्वीकार्यता


अनूदित साहित्य


1.डॉ०अनिल चड्डा -

(...गतांक से)डॉ० रिक लिंडल द्वारा
रचित अंग्रेजी पुस्तक
'The Purpose' का
डॉ० अनिल चड्डा
द्वारा हिंदी अनुवाद
- पढ़ें "अध्याय 9 - पाप कै से प्रकट होता है?


2.डॉ.रजनीकान्त एस.शाह -

(i)डॉ.पद्मश्री गुणवन्तभाई शाह के लेख
 का हिंदी अनुवाद


पुस्तकें

होनहार हैं हम बच्चे:
भविष्य की धरोहर हम बच्चे
(बच्चों की कवितायेँ)

मन की बातें जग भी जाने

कुछ ज्ञात कुछ अज्ञात
(कविता संग्रह)


बदलते रिश्तों का समीकरण
लेखिका - रोली अभिलाषा

कृपया रचनाओं पर अपनी टिप्पणी भेजें!

आपका ई-मेल पता :
आपका नाम:
टिप्पणी:
 
कृपया अपनी रचनाएँ,जो मौलिक होनी चाहिए और यूनिकोड फॉण्ट में टंकित हों, निम्नलिखित
ई-मेल पर भेजें :-

sahityasudha2016@gmail.com
[यूनिकोड फॉण्ट में टाइप करने वाले सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करने के लिये इस लिंक पर क्लिक करें]

गोपनीयता नीति

कुछ अन्य साहित्यिक वेबपत्रिकाएँ

 1.साहित्यकुंज
 2.अनुभूति
 3.काव्यालय
 4.लघुकथा.com
 5.साहित्यसरिता
 6.हिन्दी नेस्ट
 6.सृजनगाथा
 7.कृत्या
 8.हिन्दी हाइकु
 9.सेतु साहित्य

"साहित्यसुधा को सब्सक्राइब करें"

सहित्यसुधा की सूचना पाने के लिये कृपया अपना ई-मेल पता भेजें