Sahityasudha

साहित्यकारों की वेबपत्रिका

साहित्यकारों की वेबपत्रिका

साहित्य की रचनास्थली

यूनिकोड फॉण्ट में टाइप करने वाले सॉफ्टवेयर को
डाउनलोड करने के लिये इस लिंक इस लिंक परक्लिक करें।

वर्ष: 3, अंक 55, फरवरी(द्वितीय), 2019

लेखक या सम्पादक की लिखित अनुमति के बिना पूर्ण या आंशिक रचनाओं का पुनर्प्रकाशन वर्जित है। लेखक के विचारों के साथ सम्पादक का सहमत या असहमत होना आवश्यक नहीं। सर्वाधिकार सुरक्षित। साहित्यसुधा में प्रकाशित रचनाओं में विचार लेखक के अपने हैं और साहित्यसुधा टीम का उनसे सहमत होना अनिवार्य नहीं है। साहित्यसुधा एक सम्पूर्णतः साहित्यिक पत्रिका है जिसका उद्देश्य सभी रचनाकारों को प्रोत्साहित करके हिंदी को बढ़ावा देना है | इसके माध्यम से हिंदी साहित्य की सभी विधाओं को सम्मिलित करने का प्रयास किया जाएगा।

साहित्यसुधा

सम्पादकीय मंडल:-

सम्पादक - डॉ०अनिल चड्डा 

सह-सम्पादक - अखिल भंडारी  Akhil Bhandari

साहित्यिक समाचार

कनाडा से हिन्दीभाषा डॉट कॉम को 'विश्व हिन्दी साहित्यरथी' सम्मान
-राष्ट्रभाषा के लिए केन्द्र सरकार को पोस्टकार्ड भेजने का अभियान शुरू

इंदौर। हिन्दी भाषा की सक्रिय सेवा के लिए कनाडा की संस्था ने हिन्दीभाषा डॉट कॉम को सम्मानित किया है। साथ ही उनके पोस्टकार्ड अभियान को सराहा है। इस मंच को 'विश्व हिन्दी साहित्यरथी' सम्मान से विभूषित किया गया है।

....पूरा पढ़ें


हिन्दी भूषण श्री पुरस्कार डाॅ. पुनीता जैन को

के.बी. हिन्दी साहित्य समिति बिसौली (बदाँयू उ.प्र.) की ओर से 18 दिसम्बर 2018 को सुदामा देवी इन्टर काॅलेज बिसौली में आयोजित वार्षिक प्रतिष्ठित आयोजन ‘‘अखिल भारतीय साहित्यकार सम्मान समारोह 2018’’ में डाॅ. पुनीता जैन भोपाल को, .....

....पूरा पढ़ें


साहित्य संगम संस्थान ने रचनाकारों को साहित्य
कदम्ब सम्मान से किया सम्मानित*

भवानीमंडी:- ( राजेश पुरोहित) साहित्य संगम संस्थान दिल्ली द्वारा गणतन्त्र दिवस समारोह पर अखिल भारतीय ऑनलाइन कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजवीर सिंह मन्त्र ने राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी राजेश पुरोहित को जानकारी देते हुए बताया कि यह अनूठा कवि सम्मेलन ......, .....

....पूरा पढ़ें


भवानीमंडी के साहित्यकार कवि राजेश पुरोहित
कवि चौपाल मनीषी सम्मान से सम्मानित

भवानीमंडी:- देश के ख्यातिनाम कवि एवम साहित्यकार राजेश कुमार शर्मा पुरोहित को राष्ट्रीय कवि चौपाल दौसा राजस्थान के द्विवर्षीय साहित्यिक यात्रा के सफ़लतापूर्वक पूर्ण होने पर देश के विभिन्न प्रदेशों से चयनित कवि साहित्यकारों को सम्मानित करने की कड़ी में...... ......, .....

....पूरा पढ़ें


शशांक मिश्र भारती को राष्ट्रीय कवि चौपाल
एवं ई पत्रिका स्टार हिन्दी ब्लाग ने सम्मानित किया

देश में शहीदों की नगरी के नाम से विख्यात उत्तर प्रदेश शाहजहांपुर के शशांक मिश्र भारती को 05फरवरी के अपने आयोजन में राष्ट्रीय कवि चौपाल एवं ई पत्रिका स्टार हिन्दी ब्लाग ने स्टार हिंदी साहित्यकार सम्मान 2019 से सम्मानित किया है।........... ......, .....

....पूरा पढ़ें


उपन्यास का विमोचन

लखनऊ। प्रसिद्ध साहित्यकार संजीव जायसवाल संजय ने दिनॉक ०२-०२-१९ को लखीमपुर के युवा साहित्यकार सुरेश सौरभ के बेस्ट, सेलर उपन्यास एक कवयित्री की प्रेम कथा का विमोचन अपने आवास राजाजीपुरम लखनऊ में किया। ................ ......, .....

....पूरा पढ़ें

संपादक की ओर से

"रोते-रोते हंसना होगा "
दुख भरा अतीत भूलना होगा,
राह नई पर चलना होगा,
सोच नई कर ले तू अपनी,
जीवन जीना, नहीं मरना होगा।


कितना भी तू भाग ले पगले,
संघर्ष तेरे संग-संग चलेगा,
भरा चमन फूलों से है गर,
काँटों का संग भी करना होगा।


सूरज को घेरें गर बादल,
तेज़ नहीं अपना खोता है,
धुंध अगर छाये जीवन में,
साहस करके बढ़ना होगा।


जीवन है, है नहीं खिलौना,
खेल न तू बच्चों की मानिंद,
रोना मत टूटे गर आशा,
अवसाद को अपने हरना होगा।


दर्द सभी को होता जग में,
कौन है जो अब तक न रोया,
कुछ करना है जीवन में गर तो,
रोते-रोते हंसना होगा।
     - डॉ० अनिल चड्डा

अब तक

आपके पत्र

आदरणीय अनिल चढढा जी,
'साहित्यसुधा' का जनवरी 'द्वितीय'अंक पढ़ा ।प्रोबोध गोबिल जी के उपन्यास 'जल तू जलाल तू'का छटा खंड पढ़ा तो पढ़ती ही रह गयी। अदभुत लेखन और भाषा शैली,अनुपम प्रकृति वर्णन जैसे साँसें ले रहा हो। जीवान्त कहानी के किरदार किन्जान और पेरिना को और पढ़ने की इच्छा जाग्रत हो गयी। प्रबोध गोवल जी को हार्दिक बधाई।

छाया अग्रवाल(कहानीकार)
बरेली

प्रिय बंधु अनिल,

साहित्यसुधा को ऑनलाइन करने पर हमारी बधाई स्वीकारें!

अच्छा लगता है जब हिंदी की अच्छी साहित्यिक पत्रिका विश्वस्तरीय पटल पर साहित्यकारों की पहुँच बढ़ाने की पहल करती है। आपकी ऑनलाइन पत्रिका साहित्यसुधा को पूरा पढ़ अपनी प्रतिक्रिया यथाशीघ्र भेजते हैं, साथ ही अपनी रचनाएं भी अवश्य ही भेजेंगे। आपका पत्र पढ़ कर ही बहुत अच्छा लगा कि आप भी इस पत्रिका द्वारा सभी (नए उभरते व प्रतिष्ठित) रचनकारों की त्रुटिरहित रचनाओं के प्रकाशन के पक्षधर हैं। हिंदी की ऑनलाइन पत्रिकाओं की बहुतायत है किन्तु टंकण में वर्तनी की शुद्धता पर खास ध्यान देने वाली हिन्दी भाषा की पत्रिकाएँ गिनी-चुनी ही हैं।

अनिल जी,आपको यह जान कर ख़ुशी होगी कि हम भी पिछले छः वर्ष से 'अनहद कृति' नाम की त्रैमासिक ई-पत्रिका द्वारा विविध रचनाकारों की विभिन्न विधाओं में अशुद्धि-रहित रचनाओं के प्रकाशन में संलग्न है। अनहद कृति अपने कलेवर, नवीन उपक्रमों एवं हिंदी भाषा की उत्कृष्ट एवं त्रुटिरहित प्रस्तुति के लिए अपनी अलग पहचान बना चुकी है; अभी तक अनहद कृति में 993 रचनाकार पंजीकृत हो हमसे जुड़े हैं और उनकी 1200 अधिक रचनाएँ प्रकाशित हो चुकी हैं।

साहित्य-सेवा में अपने-अपने सरोकारों से जुड़े निष्ठावान रचनाकारों को एक साँझा मंच प्रदान करने में कार्यरत आपके उपक्रम 'साहित्सुधा' को हमारी शुभकामनायें।

आशा है आप भी अनहद कृति ई-पत्रिका से जुड़ेंगे, आपका साथ पा कर हमें बेहद ख़ुशी होगी।

सदैव शुभाकांक्षी,

पुष्प राज चसवाल एवं डॉ प्रेम लता चसवाल 'प्रेम पुष्प'
संपादक द्वय: अनहद कृति
(www.anhadkriti.com)

प्रिय डॉ अनिल जी नमस्ते |

जनवरी द्वीतीय अंक प्राप्त हुआ xxxxx | आपके इस सुन्दर प्रयास और हिंदी के प्रति लगन के लिए आपको बधाई |

इस अंक में आपकी कविता "कैसे मन की बात कहूँ ", डॉ कनिका वर्मा जी की "कलूटी ,डॉ ललिता यादव जी की "संस्कार ", महेंद्र देवांगन माटी जी की "पेड़ लगाओ" पर्यावरण पर सुन्दर सन्देश है ,"सुशील शर्मा जी की "सुख दुःख " कविता में सुख और दुःख को बहुत सुन्दर शब्दों में परिभाषित किया है | अशोक कुमार ढोरिया जी के हाइकु और अजय अमिताभ सुमन जी की कहानी "बोझ ५ रूपए का " बहुत अच्छी लगी | सभी रचनाकारों को हार्दिक बधाई |

धन्यवाद

सादर
सविता अग्रवाल "सवि" (कैनेडा)

इस अंक में

कवितायें

गीत, गज़ल, इत्यादि

आलेख, कहानियाँ, व्यंग्य, इत्यादि

...आलेख

3.पद्मा मिश्रा -

(i)सखि ,बसंत आया !

4.पारसमणि अग्रवाल -

(i)वेलन्टाइन डे विशेष
 आधुनिक प्रेम की ज्वाला में
 सुलग रही जिन्दगी


5. राजेश कुमार शर्मा"पुरोहित" -

(i)धर्म के चार चरणों मे
 क्या है दान का महत्व


6.तारकेश कुमार ओझा -

(i)हे स्पीड प्रेमी बाइकरों...
 राहगीरों पर रहम करो...!!


7.डॉ0 राजेश कुमार सिंह यादव -

(i)कवियों के कवि शमशेर:
 काव्य संवेदना


8.डा श्रीगोपाल नारसन एडवोकेट -

(i)मुझे सम्मान देने के लिए जब
 बार बार पुकारते रहे जार्ज


9.डॉ. सुबोध कुमार शांडिल्य -

(i)बंधुआ मजदूरी एवं संविदा व्यवस्था :
 एक तुलनात्मक अध्ययन


अनूदित साहित्य


1.डॉ०अनिल चड्डा
-

(...गतांक से)डॉ० रिक लिंडल द्वारा
रचित अंग्रेजी पुस्तक
'The Purpose' का
डॉ० अनिल चड्डा
द्वारा हिंदी अनुवाद
- पढ़ें अंतिम भाग - "अध्याय 11 -
"प्रार्थना एवं ज़िम्मेदारी "


2.डॉ.रजनीकान्त एस.शाह
-

(i)स्व.डॉ.सुरेश जोषी की गुजराती
 कहानी "कुरुक्षेत्र" का हिंदी अनुवाद


कृपया अपनी रचनाएँ,जो मौलिक होनी चाहिए और यूनिकोड फॉण्ट में टंकित हों, निम्नलिखित
ई-मेल पर भेजें :-

sahityasudha2016@gmail.com
[यूनिकोड फॉण्ट में टाइप करने वाले सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करने के लिये इस लिंक पर क्लिक करें]

गोपनीयता नीति



"साहित्यसुधा को सब्सक्राइब करें"

सहित्यसुधा की सूचना पाने के लिये कृपया अपना ई-मेल पता भेजें