Sahityasudha view
साहित्यकारों की वेबपत्रिका
मुखपृष्ठ


साहित्यकारों की रचना स्थली

वर्ष: 2, अंक 40, जुलाई(प्रथम), 2018



पिता


महेन्द्र देवांगन माटी


1.
पिता महान दुख दर्द सहते सारा जहान ।
2.
दबे हैं बोझ जिम्मेदारी निभाते सुख की खोज ।
3.
बच्चे सीखते ऊँगली पकड़ के पिता सीखाते ।
4.
करें नमन अपने पिताजी का हर्षित मन ।
5.
सबसे बड़ा है घर का मुखिया जिम्मेदारियाँ ।

कृपया रचनाकार को मेल भेज कर अपने विचारों से अवगत करायें