Sahityasudha view
साहित्यकारों की वेबपत्रिका
मुखपृष्ठ


साहित्यकारों की रचना स्थली

वर्ष: 1, अंक16, जुलाई(प्रथम), 2017





  

   सैनिक जीवन पर आधारिक जनक देव जनक की कहानी लौट दो सावन अच्ची लगी! लेखक ने अपनी पत्नी चांदनी के साथ बिताए गाव के मनोरम चित्र का आकलन बहुत सुन्दर ढंग से किया है। साथ ही एक ग्रामीण लड़की से सादी कर इंसानियत का परिचय दिया है। साथ ही उसे ग्रामीण परिवेश से कश्मीर मे लाना एक बड़ा कदम है

  सन्नी शर्मा

www.000webhost.com

कृपया अपनी प्रतिक्रिया sahityasudha2016@gmail.com पर भेजें