Sahityasudha view
साहित्यकारों की वेबपत्रिका
मुखपृष्ठ


साहित्यकारों की रचना स्थली

वर्ष: 1, अंक16, जुलाई(प्रथम), 2017





   डॉक्टर अनिल चड्ढा की कहानी ’छँटते बादल’ एक अतिसंवेदनशील विषय को बख़ूबी निभाती है। शब्द चयन, वाक्य विन्यास तथा कथा संरचना रोचक हैं। हिज्जों की अशुद्धि कहीं-कहीं मज़ा किरकिरा कर देती है।

   भवदीय,
  अमिताभ वर्मा

www.000webhost.com

कृपया अपनी प्रतिक्रिया sahityasudha2016@gmail.com पर भेजें