Sahityasudha view
साहित्यकारों की वेबपत्रिका
मुखपृष्ठ


साहित्यकारों की रचना स्थली

वर्ष: 2, अंक 20, सितम्बर(प्रथम), 2017



हाइकू


राजकुमार सिंह


 		 
 (1)
नेता बहरे
नीति गहरी खाई
जनता अंधी
 (2)
भाई का भाई
गला काटता आया
लोक रिवाज
 (3)
गुरू घंटाल
चेला बने चंडाल
महाभारत
 (4)
गर्भ में रहा
देवता की तरह
जन्मे शैतान
 (5)
नेता कहिन 
हमने किया काम
घोटाल
 (6)
पाप पुण्य की
महा भारत हुई
किन्नर जन्म 
 (7)
पैसा बोलता
हंसे कातिल लोग 
बिकता न्याय
www.000webhost.com

कृपया अपनी प्रतिक्रिया sahityasudha2016@gmail.com पर भेजें