Sahityasudha view
साहित्यकारों की वेबपत्रिका
मुखपृष्ठ


साहित्यकारों की रचना स्थली

वर्ष: 2, अंक 26, दिसम्बर(प्रथम), 2017



जुस्तजू नहीं कर सकूँ मैं


डॉ० अनिल चड्डा


 
जुस्तजू नहीं कर सकूँ मैं,
भरोसा न दिल पर करूँ मैं। 

बनी मुश्किलों से कहानी,
यकीं हो तुझे तो कहूँ मैं।

सभी को पता हैं गल्तियाँ,           
छुपाऊँ उन्हें खुद से क्यूँ मैं।

ग़मों को लिये घूमता हूँ,
ख़ुशी मन में कैसे रखूँ मैं। 

‘अनिल’ ने किया क्या गुनाह है,
इल्जामों को क्यों कर सहूँ मैं।
www.000webhost.com

कृपया अपनी प्रतिक्रिया sahityasudha2016@gmail.com पर भेजें